रामलीला समाहरोह 2011 – मयूर यूथ क्लब (पंजि)

मयूर यूथ क्लब (पंजि) द्वारा मयूर विहार, फेज-1 में होने वाली रामलीला के ताजा समाचार

बुधवार, दिनांक 28 सितम्बर 2011

कल की रामलीला दुर्गा वंदना से शुरू की गई और इसके बाद दशरथ दरबार का द्र्श्य दिखाया गया. दशरथ का पात्र निभाने वाले श्री अरूण कुमार जी का अभिनय दर्शनीय था. दशरथ जी संतान ना होने से चिंतित थे. तब गुरू वशिष्ठ जी ने उनकी चिंता को दूर किया और श्रृंगी ऋषि जी को बुलाकर उनसे कुछ उपाय करने के लिये कहा. तब श्रृंगी ऋषि जी ने पुत्रेष्ट य़ज्ञ किया और राम, लक्ष्मण, भरत व शत्रुघ्न का जन्म हुआ.

इसके बाद राजा जनक द्वारा हल चलाना और घडे में से सीता का जन्म होने की लीला दिखाई गई. मारिच-सुबाहु आदि राक्षसों का प्रजा को लूटना और विश्वामित्र जी को तंग करना. विश्वामित्र जी का दशरथ से साहयता मांगेने जाने तक की लीला कल सम्मपन्न हो गई.

राम जन्म पर डांडिया डाँस “अवध में जन्में राम” बहुत ही दर्शनीय बना. लोगों ने लीला का बहुत ही आन्नद उठाया.

आज कि लीला का मुख्य आकर्षण है – विश्वामित्र द्वारा दशरथ से राम-लक्ष्मण को मांग कर ले जाना, ताडिका वध, सुबाहु वध, मारिच का घायल होना और भाग जाना, अहिल्या उद्दार, सीता पुष्पवाटिका आदि.

Ramleela 2011

Durga Vandana

One response to “रामलीला समाहरोह 2011 – मयूर यूथ क्लब (पंजि)