गधा कौन? (अकबर-बीरबल)

एक बार अकबर अपने दो बेटों के साथ नदी के किनारे गये. साथ में बीरबल भी थे. दोनों बटों ने अपने कपडे उतारे और नदी मे नहाने उतर गये. बीरबल को उन्होंने अपने कपडों की रखवाली करने के लिये कहा.

बीरबल नदी किनारे बैठ कर उन दोनों के आने का इंतज़ार करने लगे. कपडे उन्होंने अपने कन्धों पर रखे हुए थे. बीरबल को इस अवस्था में खडे देख अकबर के मन में शरारत सूझी. उन्होंने बीरबल को कहा, “बीरबल तुम्हे देख कर ऐसा लग रह है जैसे धोबी का गधा कपडे लाद कर खडा हो”.

बीरबल ने झट से जवाब दिया, ” महराज धोबी के गधे के पास केवल एक गधे का ही बोझ होता है किंतु मेरे पास तो तीन-तीन गधों का बोझ है”.

महाराजा अकबर निरूत्तर हो गए.

10 responses to “गधा कौन? (अकबर-बीरबल)

  1. हाहा.. सिर्फ एक सुधार कर लें “अकबर ने झट से जवाब दिया,” की जगह “बीरबल ने झट से जवाब दिया” ।

  2. मजेदार 🙂 अकबर -बीरबल को याद दिलने के लिये शुक्रिया !

  3. नितिन जी, प्रभात जी व परमजीत जी,

    आप सभी का धन्यवाद. ह्र्दय गदगद हो जाता है आप लोगों की टिप्प्णियाँ पढ कर.

    नितिन जी, मैनें अपनी गलती सुधार ली है, आपका अत्यधिक आभारी हूँ.

  4. gadhe ne gadho ko gadha kaha gadha ne likha gadha ne padha.
    aur man gadh-gadh ho gaya.

    so……..a…….ry…….e

  5. Hindi jokes are very much in demand.We all love reading and listening them.Look here for the best hindi jokes

  6. In todays fast paced and stressful lifes,it is important to seek some sort of entertainment or stressbuster.Hindijokes are an easy way of releiving Stress.hindijokes

  7. तीन-तीन गधे का बोझ।
    हा हा हा…..।